अडानी की विदेशी कंपनियों के साथ डील की जाँच से बड़ा ख़ुलासा हुआ है, दरअसल अमेरिकी रिसर्च फर्म हिंडनबर्ग की रिपोर्ट

आने के बाद अडानी ग्रुप मुश्किलों से घिरा हुआ है, ऐसे में अडानी ग्रुप की जाँच शेयर मार्केट रेगुलेटर सेबी कर रही है.

आने के बाद अडानी ग्रुप मुश्किलों से घिरा हुआ है, ऐसे में अडानी ग्रुप की जाँच शेयर मार्केट रेगुलेटर सेबी कर रही है.

मार्केट रेगुलेटर सेबी अडानी ग्रुप द्वारा  तीन विदेशी कंपनियों के साथ लेन देन और ट्रांजेक्सन से संबंधित सभी उलंधन की जाँच में लगी है.

दरअसल इन तीनों विदेशी कंपनियों को अडानी के भाई विनोद अडानी से जोड़कर देखा जा रहा है, सूत्रों के मुताबिक

गौतम अडानी के भाई विनोद अडानी का इन तीनों कंपनियों के साथ जुड़ाव है, यहाँ तक विनोद इसके मालिक या डायरेक्टर भी हो सकते है.

इसके साथ यह भी जाँच हो रही है की क्या इन तीनों कंपनियों के साथ हुई डील में रिलेटेड पार्टी ट्रांजेक्सन 

से संबंधित नियमों का उलंघन हुआ है या फिर नहीं. फ़िलहाल यदि आप अडानी से जुडी से ख़बरों को पढ़ना चाहते हैं तो नीचे क्लिक करें